जंग। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यह जानकारी दी। संगठन के लीबिया से जुड़े विभाग ने ट्विटर पर बताया कि वह इलाके में चिकित्सा सामग्री के साथ ही और स्टाफ को वहां भेज रहा है। साथ ही संगठन ने स्वास्थ्य कर्मियों पर बार बार किए जाने वाले हमलों की भी निंदा की है। इस इलाके में यह संघर्ष चार अप्रैल को छिड़ा था।

देश के पूर्वी हिस्से पर कब्जा रखने वाले हफ्तार के लड़ाकों ने संयुक्त राष्ट्र समर्थित सरकार के वफादार लड़ाकों के खिलाफ लड़ाई रोकने की अपील को खारिज कर दिया था। हफ्तार पूर्वी लीबिया में स्थित उस प्रतिद्वंदी प्रशासन का समर्थन करता है जिसने फयाज अल सराज की अगुवाई वाली और संयुक्त राष्ट्र समर्थित यूनिटी सरकार को मान्यता देने से इंकार कर दिया है। रूस ने रविवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के एक बयान को अवरूद्ध किया था, जिसमें लीबिया के कमांडर खलीफा हफ्तार के वफादार सुरक्षा बलों को त्रिपोली में सैन्य गतिविधियां रोकने को कहा गया था। सुरक्षा परिषद के राजनयिकों ने बताया कि मॉस्को ने जोर दिया कि औपचारिक बयान में लीबिया में सक्रिय सभी बलों को लड़ाई रोकने को कहा जाना चाहिए लेकिन इस प्रस्ताव में बदलाव का अमेरिका ने विरोध किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here