झारखंड विकास मोर्चा अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने सोमवार को कोडरमा संसदीय सीट के लिए अपना पर्चा दाखिल किया। इस मौके पर महागठबंधन में शामिल घटक दल के कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे।
बाबूलाल मरांडी के नामांकन दाखिल करने के पहले महागठबंधन की ओर से अपनी ताकत का प्रदर्शन किया गया। गिरिडीह के उपायुक्त सह कोडरमा लोकसभा चुनाव के निर्वाची पदाधिकारी राजेश पाठक के समक्ष बाबूलाल मरांडी ने पर्चा दाखिल किया। इस मौके पर झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार और झाविमो के केंद्रीय उपाध्यक्ष डॉ. सबा अहमद भी मौजूद थे।

गिरिडीह के झंडा मैदान में महागठबंधन की ओर से आज एक सभा का भी आयोजन किया गया। इस मौके पर झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि कोडरमा संसदीय सीट के लिए महागठबंधन प्रत्याशी की जीत सुनिश्चित करने के लिए सभी मिलजुलकर प्रचार अभियान चलायेंगे। उन्होंने कहा कि झाविमो अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी को झामुमो तथा कांग्रेस और राजद कार्यकर्त्ताओं का भी पूर्ण सहयोग मिलेगा।

इस अवसर पर झाविमो अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने कहा कि उनकी लड़ाई किसी व्यक्ति से नहीं है, बल्कि जिन लोगों ने पांच वर्षां तक लोगों को ठगा और लूटने का काम किया,ऐसी व्यवस्था के खिलाफ लड़ाई है। बाबूलाल ने कहा कि भाजपा की ओर से प्रत्येक वर्ष देश के दो करोड़ लोगों को रोजगार देने का भरोसा दिलाया था, लेकिन अब पांच वर्ष बीत जाने के बावजूद उनलोगों ने चुपी लगा दी है, जबकि आंकड़े बताते है कि देश में बेरोजगारी की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई।
प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार ने कहा कि बाबूलाल मरांडी की जीत सुनिश्चित करने में कांग्रेस के हर नेता-कार्यकर्त्ता समन्वय बनाकर बूथ पर उनकी सुनिश्चित करने का प्रयास करेंगे। गौरतलब है कि इस बार बाबूलाल मरांडी के सामने कोडरमा में भाजपा की अन्नपूर्णा देवी और भाकपा-माले के राजकुमार यादव सीधे चुनौती बनकर खड़े हैं। अन्नपूर्णा देवी हाल ही में राजद छोड़ कर भाजपा में शामिल हुई र्ह, जबकि माले के राजकुमार यादव इस सीट पर पिछली बार दूसरे स्थान पर थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here