भारतीय बैंकों को करोड़ों का चूना लगाकर विदेश भागने वाले भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी भारत में सबसे ज्यादा वांछित है। पंजाब नेशनल बैंक का 14 हजार करोड़ रुपये लेकर देश से चंपत होने वाला नीरव मोदी इस समय लंदन के वेस्ट एंड में एक आलीशान अपार्टमेंट में रह रहा है और वहीं हीरे का नया कारोबार भी शुरू किया है। नीरव मोदी को लंदन एक पत्रकार ने ढूंढ निकाला है। संवाददाता ने इस दौरान नीरव मोदी से कई सवाल भी किए, जिनका उसने कोई जवाब नहीं दिया। उल्लेखनीय है कि भारतीय अधिकारियों के आवेदन पर नीरव मोदी की गिरफ्तारी के लिए पिछले साल जुलाई में इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया, लेकिन अब भी वह गिरफ्त से बाहर है। यूके के प्रमुख एक समाचार पत्र ने ‘भगोड़े’ कारोबारी के साथ इंटरव्यू का एक वीडियो जारी किया है। वीडियो में खुलासा किया गया है कि 48 वर्षीय ‘भगोड़ा’ कारोबारी नीरव मोदी ऑक्सफोर्ड स्ट्रीट के निकट एक लग्जरी फ्लैट में रह रहा है और सोहो में हीरे का नया कारोबार शुरू किया है। वीडियो में नीरव मोदी बेहद स्वस्थ और खड़ी मूंछ के साथ दिख रहा है।
सूत्रों ने बताया है कि नीरव मोदी ने प्रत्यर्पण से बचने के लिए संभवतः लंदन में प्लास्टिक सर्जरी कराई है। पत्रकार ने नीरव मोदी से जब पूछा कि आपके ऊपर कई लोगों के काफी सारे कर्ज हैं, इस बारे में आप क्या कहेंगे, जिसका नीरव ने ‘नो कॉमेंट’ में जवाब दिया। पत्रकार ने पूछा कि आपने जिनके पैसे लिए हैं, वे आपको ढूंढ रहे हैं, जिसके जवाब में नीरव मोदी ने ‘सॉरी, नो कॉमेंट’ कहा। जब उससे पूछा गया कि उनका लंदन में कितने दिनों तक रहने का इरादा है, जिसका उसने कोई जवाब नहीं दिया। पत्रकार ने कहा कि अधिकारियों ने उनसे कहा है कि आपने पॉलिटिकल असाइलम के लिए अप्लाई किया है और उन्होंने यह भी कहा है कि आप प्रत्यर्पण आवेदन के अधीन हैं, क्या आपको लगता है कि आपका प्रत्पर्पण होना चाहिए, जिसका भी नीरव मोदी ने ‘सॉरी नो कॉमेंट’ में जवाब दिया। पत्रकार ने जब उससे पूछा कि आप सारे सवालों पर चुप्पी नहीं साध सकते, जिसके जवाब में नीरव मोदी ने चुप्पी साध ली। पत्रकार ने जब उनसे पूछा कि आप अपने मित्र या सहयोगियों के बारे में कुछ बता सकते है, जिसका नीरव मोदी ने कोई जवाब नहीं दिया। नीरव मोदी से यह सवाल भी पूछा गया कि क्या आप अभी भी हीरे का कारोबार कर रहे हैं। अंत में पत्रकार के किसी भी सवाल का जवाब दिए बिना नीरव मोदी टैक्सी लेकर निकल गया। उल्लेखनीय है कि भारतीय अधिकारियों के आवेदन पर नीरव मोदी की गिरफ्तारी के लिए पिछले साल जुलाई में इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया, लेकिन अब भी वह गिरफ्त से बाहर है। अरबपति जूलर नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी ने पीएमबी PNB में करीब 14 हजार करोड़ रुपये के घोटाले को अंजाम दिया है। घोटाले का पर्दाफाश होने से पहले दोनों पिछले साल जनवरी में देश छोड़कर फरार हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here