राफेल ‎विमान खरीदी को लेकर कांग्रेस अभी भी हमलावर रुख अ‎ख्तियार ‎किए हुए है । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट किया और सेना के जवानों को संबोधित करते हुए लिखा कि आप हमारे रक्षक हैं। आप भारत के लिए अपनी जान की कुर्बानी देते हैं। आप हमारे और देश के गौरव हैं।राहुल गांधी ने कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम भी मौजूद थे। प्रेस कॉन्फ्रेंस में अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर राफेल डील को लेकर एक बार फिर हमला बोला और कहा कि हम कई सालों से कह रहे हैं कि राफेल घोटाले में प्रधानमंत्री सीधे तौर पर शामिल हैं। वहीं एक अखबार का हवाला देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इस खबर ने प्रधानमंत्री की पोल खोल दी। राहुल ने कहा ‎कि वाड्रा-चिदंबरम पर जांच के लिए तैयार हैं वहीं आप राफेल पर भी जांच कराएं।
राहुल ने सेना के जवानों का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 हजार करोड़ रुपये की चोरी की और उसे उद्योगप‎ति अनिल अंबानी की जेब में डाल दिया। उन्होंने कहा कि फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति होलांद ने कहा था उनसे कि पीएम मोदी ने खुद उनसे डील को लेकर बात की थी। इसे मंत्रालय ने भी स्पष्ट कर दिया है। राफेल पर हमारी बात सच साबित हुई। राहुल ने कहा कि मैं हिंदुस्तान के युवाओं, नेवी, आर्मी के लोगों से बात करना चाहता हूं। हिंदस्तान के प्रधानमंत्री 30 हजार करोड़ चोरी कर के अनिल अंबानी को दिलवाया है। वायुसेना और डिफेंस मिनिस्ट्री के दस्तावेज कहते हैं कि भारत के प्रधानमंत्री फ्रांस के साथ पैरेलल नेगोशिएशन कर रहे थे। एक बार ‎फिर फिर से दोहराया कि चौकीदार चोर हैं। यह पूरी तरह से स्पष्ट है। याद रखिए 30 हजार करोड़ का इस्तेमाल सेना के ‎लिए किया जा सकता था। यह अनिल अंबानी का नहीं है। यह आपका पैसा है। राहुल ने कहा कि रॉबर्ट वाड्रा और चिदंबरम पर मोदी सरकार केस चलाए हम हर जांच के लिए तैयार हैं लेकिन सरकार राफेल पर अपना जवाब देश के सामने रखे। उन्होंने कहा कि हम किसी भी जांच से नहीं डरते लेकिन सरकार राफेल की जांच से इतनी डरी हुई है कि वह इस पर कोई जवाब अब तक नहीं दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here