आजकल विदेशी भाषा के क्षेत्र में भी काफी संभावनाएं हैं, ऐसे में युवा फ्रेंच, स्पेनिश और जर्मन जैसी विदेशी भाषाओं में खासी रुचि दिखा रहे हैं और इस क्षेत्र में भी केरियर बनाना चाहते हैं। अगर आप भी विदेशी भाषा सीख कर अच्छी खासी कमाई करना चाहते हैं तो

इन बातों का ध्यान रखें

जैसे कि भाषा पर अच्छी पकड़ होनी चाहिए ताकि भाषा से संबंधित चीजों को समझने में आसानी हो सके। इसके अलावा प्रेज़ेंस ऑफ माइंड, सकारात्मक रुख, टीमवर्क और नई चीजें सीखने की ललक जैसी कुछ बातें हैं जो आप में होनी चाहिए।

विदेशी में सर्टिफिकेशन

विदेशी भाषा में बेसिक सर्टिफिकेशन ए 1 स्तर का होता है। इसके बाद थोड़ा अडवांस कोर्स ए2 सर्टिफिकेशन के लिए किया जाता है। यह सर्टिफिकेशन उस भाषा से जुड़े दूतावास से मिलता है। ए1 और ए2 सर्टीफिकेशन किसी बहुराष्ट्रीय कंपनी में नौकरी के आवेदन के लिए सबसे बेहतर माना जाता है। वहीं अगर आप विदेशी भाषा पढ़ाना चाहते हैं तो आपके पास इसके और अडवांस लेवल कोर्स बी1 और बी2 का सर्टिफिकेशन होना चाहिये।

ध्यान रखें

अगर आपने विदेशी भाषा का बेसिक समझ और सीख लिया है तो उसका अडवांस भी साथ ही सीख लें। अगर आपने अडवांस कोर्स सीखने में देर कर दी तो आप कई बातों को भूल जाएंगे। इससे आपने जो मेहनत की है वह सब बेकार ही चली जाएगी। ऐसे में बेहतर होगा कि विदेशी भाषा के कोर्स करने के बाद भी आप अभ्यास करते रहें। इसके लिए आप गूगल ट्रांसलेट और ऐसे ऐप्स की मदद ले सकते हैं जो भाषा समझने में सहायता करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here