वोडाफोन आइडिया को चालू वित्त वर्ष की सितंबर में समाप्त हुई तिमाही में 4,973 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। कंपनी ने विलय के बाद के अपने पहले वित्तीय नतीजों को जारी करते हुए यह जानकारी दी। वोडाफोन आइडिया ने कहा कि ये नतीजे अगस्त और सितंबर के हैं, क्योंकि कंपनी का विलय अगस्त में पूरा हुआ था। वोडाफोन आइडिया में वोडाफोन की 45.2 फीसदी तथा आदित्य बिड़ला समूह की 26 फीसदी हिस्सेदारी है। वोडाफोन आइडिया के विलय के बाद भी दोनों कंपनियां अलग-अलग ब्रांड नाम से परिचालन कर रही हैं। वोडाफोन आइडिया देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी है, जिसके कुल 42.2 करोड़ ग्राहक हैं। कंपनी ने अगस्त और सितंबर में कुल 7,663 करोड़ रुपए का राजस्व दर्ज किया है। वहीं ब्रिटेन की दूरसंचार कंपनी वोडाफोन को साल 2018 की पहली छमाही में 7.8 अरब यूरो का नुकसान हुआ है, जबकि पिछले साल (2017) की समान अवधि में कंपनी को 1.2 अरब यूरो का मुनाफा हुआ था। ब्रिटेन की कंपनी वोडाफोन ने कहा कि समीक्षाधीन अवधि में कंपनी को स्पेन, रोमानिया और वोडाफोन आइडिया में निवेश पर 3.5 अरब यूरो का नुकसान हुआ। साथ ही वोडाफोन इंडिया की बिक्री पर उसे 3.4 अरब यूरो का नुकसान हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here